महामाया काली माता को चढाई २११ मीटर लम्बी चुनरी, यात्रा का कई समाज और व्यापारियो के किया स्वागत


शिवपुरी -नवरात्र पर्व के दौरान बुधवार को शहर में माता की चुनरी यात्रा का आयोजन किया गया! शहर के प्राचीन राजराजेश्वरी मंदिर से विशाल चुनरी यात्रा निकाली गई।
शहर के प्रमुख मार्गों से होती हुई यह चुनरी यात्रा काली माता मंदिर पर पहुंची। यहां पर माता को इस चुनरी को भेंट किया गया। इस कार्यक्रम के उपरांत गौमाता का पूजन एवं कन्या पूजन का कार्यक्रम भी हुआ। जिसके बाद कन्याओं को भोजन कराया गया।

जिसमें शहर के महिला पुरूषों एवं युवक-युवतियों द्वारा भागीदारी की गई। 211 मीटर लम्बी चुनरी भक्तजनों द्वारा लेकर राजेश्वरी मंदिर से लगभग 5 बजे प्रारंभ की गई।


जो अग्रसेन चौराहे, अस्पताल चौराहे, कोर्ट रोड़, माधव चौक, गुरुद्वारा चौराहे, नीलगर चौराहे, सुभाष पार्क से होकर काली माता मंदिर पहुंची। ढोल ढमाकों के साथ भक्तजनों द्वारा निकाली गई चुनरी यात्रा का शहर के विभिन्न स्थानों पर कई समाज के लोगो एवं व्यापारियो द्वारा जोशीला स्वागत किया गया। इस यात्रा के दौरान ढोल ढमाकों की धुन पर युवक-युवतियां महिला पुरूष थिरकते नजर आए।


चुनरी यात्रा का समापन स्थल समापन स्थल काली माता मंदिर पर कन्या पूजन, गौ पूजन के साथ विशाल भण्डारे का आयोजन किया गया। इस चुनरी यात्रा में किसान मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष रणवीर सिंह रावत, सोनू विरथरे, भरत अग्रवाल, चंदू बंसल, गगन खटीक, गणेश गुप्ता, अभिषेक शर्मा, हरिओम नरवरिया, पंकज शर्मा, राजीव जैन, राजू शर्मा, डेविड चौहान, गोलू व्यास, कपिल मिश्रा, सुरेंद्र यादव, दिलीप धाकड़, राकेश गुप्ता, लक्ष्मीकान्त सोनी, दीपक प्रधान, कुक्कू कबीर, मुकेश जैन, रवि रावत, सुरेंद्र रजक, अंशु शर्मा, ब्रजेन्द्र भार्गव, पंकज राठौर, अतुल शुक्ला, असि जाट, धीरज शर्मा, विजय राय, आलोक कुशवाह आदि की महत्वपूर्ण भूमिका रही।




महामाया







Post a comment

0 Comments