पत्रकारों की सुरक्षा के लिए पत्रकार संघ 3 मई को देगा धरना


शिवपुरी। मध्यप्रदेश में भाजपा सरकार के रहते पत्रकारों पर ज्यादती के मामले बढ़ते जा रहे हैं। आएदिन पत्रकारों के साथ मारपीट एवं झूठे प्रकरण दर्ज किए जा रहे हैं। इसी को लेकर 3 मई को अंतर्राष्ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर पत्रकार सुरक्षा कानून शीघ्र लागू करने के लिए प्रदेशभर में मध्यप्रदेश पत्रकार संघ जिला स्तर पर धरना देकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपेगा। यह जानकारी देते हुए मध्यप्रदेश पत्रकार संघ के प्रांतीय महासचिव एवं ग्वालियर प्रेस क्लब के सचिव राजेश शर्मा ने बताया कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमलों की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। वहीं अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर भी आए दिन चोट पहुंचाई जा रही है। ऐसी स्थिति में पत्रकारों का निष्पक्षता से कार्य करना दूभर हो गया है। प्रदेश में भाजपा सरकार के रहते पत्रकारों के साथ आएदिन हो रही बदसलूकी की घटनाओं पर अंकुश लगाने एवं पत्रकार सुरक्षा अधिनियम शीघ्र लागू करने की मांग को लेकर जिला स्तर पर 3 मई अंतर्राष्ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर धरना देकर मुख्यमंत्री से मांग की जाएगी कि महाराष्ट्र एवं उत्तरप्रदेश में पत्रकार सुरक्षा कानून बना दिया गया है, मध्यप्रदेश में भी पत्रकारों की सुरक्षा के लिए यह कानून शीघ्र बनाया जाए। भोपाल में मध्यप्रदेश पत्रकार संघ की आयोजित बैठक में यह निर्णय लिया गया कि ग्वालियर में पत्रकारों के साथ जीडीए द्वारा की गई धोखाधड़ी एवं जिला प्रशासन द्वारा पत्रकारों के साथ अभद्रता श्योपुर में खबर प्रकाशित किए जाने पर पत्रकार के साथ मारपीट, गोहद में पत्रकार असगर खान एवं भोपाल में जयंत ठाकरे के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज किए जाने के विरोध में संघ मुख्यमंत्री के नाम तहसील एवं जिला स्तर पर ज्ञापन सौंपकर विरोध दर्ज कराएगा।

Post a comment

0 Comments