2021 से रेल यात्रियों को मिलेगी कन्फर्म सीट: सुरेश प्रभु

2021 से यात्रियों को उनके पसंदीदा ट्रेनों में कन्फर्म सीट मिलेगी

अभी मांग और ट्रेनों में सीट की उपलब्धता के बीच काफी अंतर है. विशेष रूप से दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई मार्गों पर है. इसके चलते कई यात्रियों को वेटिंग टिकट मिलता है. इसका मतलब है कि अगर टिकट कन्फर्म नहीं हुआ तो सीट नहीं मिलेगी...

दरअसल, मांग-आपूर्ति के इस अंतर को पूरा करने के लिए रेलवे व्यस्त मार्गों पर और यात्री ट्रेन चलाने की योजना बना रहा है.

 रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि माल गाड़ियों को उनके लिए अलग से बनाए जा रहे गलियारे में स्थानांरित किए जाने से यह संभव हो सकता है. इस पर काम जारी है और व्यस्त मार्ग दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई मार्गों को ट्रेनों की गति बढ़ाने के लायक बनाया जा रहा है. उद्योग मंडल सीआईआई द्वारा आयोजित कार्यक्रम में रेल मंत्री ने कहा, रेलवे लाइन पर क्षमता से अधिक बोझ है.

 रेल को 200 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से चलाने के लिए दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई रेल गलियारों पर काम शुरू कर दिया है.

मालगाड़ियों के लिए अलग गलियारा बनाए जाने से यात्री ट्रेनों को उच्च गति से चलाने की काफी गुंजाइश बढ़ जाएगी. मालगाड़ियों के लिए कुल 3,228 किलोमीटर लंबा पूर्वी और पश्चिमी गलियारा दिसंबर 2019 तक शुरू हो जाने की उम्मीद है.

Post a comment

0 Comments