Latest

latest

नोटबंदी से किसानों का हो रहा आर्थिक शोषण ,आंदोलन होगा

Tuesday, 27 December 2016

/ by Durgesh Gupta
शिवपुरी। कांग्रेसी नेता कल कोलारस मंडी में और आज शिवपुरी कृषि उपज मंडी में पहुंचे और उन्होंने फसल बेचने आए किसानों से उनका हाल चाल पूछा। कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि नोटबंदी के बाद किसानों के समक्ष आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। आठ नव बर के पहले उनकी फसल जिस दर पर बिक रही थी आज दाम घटकर आधे रह गए हैं। कांग्रेसियों ने अल्टीमेटम दिया कि 1 जनवरी के बाद वह किसानों की समस्याओं को लेकर एक बड़ा आंदोलन खड़ा करेंगे। 

आज कृषि उपज मंडी में वरिष्ठ कांग्रेस नेता केशव सिंह तोमर, सांसद प्रतिनिधि हरवीर सिंह रघुवंशी, पूर्व मंडी अध्यक्ष एनपी शर्मा, शहर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राकेश गुप्ता, किसान कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सुरेश राठखेड़ा, पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष विनोद धाकड़ एडवोकेट, सेवादल अध्यक्ष अनिल उत्साही, सरनाम सिंह रावत, अमरलाल शाक्य, रमेश रावत, इब्राहिम खांन, इस्माईल खां, विजय शर्मा, भूपेन्द्र सिंह जादौन, सरदार म खन सिंह आदि नेता पहुंचे। 

कांग्रेसियों ने किसानों से बातचीत करने के बाद बताया कि आठ नव बर को उनकी सोयावीन 3300 रूपए प्रति क्विंटल की दर से विक रहीं थी वहीं नोटबंदी के कारण यह दर घटकर 1500 से 2700 रूपए प्रति क्विंटल तक रह गर्ई है। सोयाबीन को घटिया बताकर व्यापारियों द्वारा उसे 1500 रूपए क्विंटल में खरीदा जा रहा है और भुगतान भी नगद न देकर चैक के माध्यम से दिया जा रहा है। 

सरकार ने सोयाबीन की फसल का समर्थन मूल्य 2850 रूपए प्रति क्विंटल निर्धारित किया है, लेकिन इस समर्थन मूल्य पर किसानों की फसल की खरीद नहीं हो रही। वहीं अजबाईन का दाम 8 नव बर तक 1100 रूपए प्रति क्विंटल था जो अब घटकर 6 हजार से 6400 रूपए प्रतिक्विंटल हो गया है।

No comments

Post a comment

Don't Miss
© all rights reserved
made with by templateszoo