वैश्विक कोरोना संक्रमण एंव डिप्रेशन से बचने के लिए नियमित योगाभ्यास करें:- रघुवीर पाराशर योग प्रशिक्षक



अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में योग को बढ़ावा देने वाले 5 योग प्रशिक्षकों को सम्मानित किया 

कोरोना संक्रमण से बचने व इम्यूनिटि बढ़ाने के लिए योग नियमित करने का संकल्प दिलाया:- रघुवीर पाराशर

शिवपुरी। 21 जून छठे अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर कोरोना संक्रमण से बचाब व इम्यूनिटी बढ़ाने एवं मानसिक तनाव से बचने के लिए  जागरुकता का सन्देश देते हुए शिवपुरी के वरिष्ठ योग प्रशिक्षक रघुवीर पाराशर    ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को नियमित योगाभ्यास करना चाहिए क्योकि कोरोना से बचाव के लिए सवसे कारगार एंव निशुल्क उपाय है वह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना।  इसे बढ़ाने के लिए हमें प्रतिदिन नियमिति योगा करना चाहिय चूंकि ग्रामीण क्षेत्र में योग के बारे में जागरुकता की कमी हैं इसीलिए वहा की किशोरी एवं महिलाओं को योगाभ्यास प्रतिदिन करने के लिए जागरुक किया जाना चाहिये इससे शारीरिक , मानसिक एवं 
अध्यात्मिक स्वास्थ्य तीनो रुप से आप स्वस्थ्य रहेगें। अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में स्वयं सेवी संस्था शक्तिशाली महिला संगठन शिवपुरी एवं बिट्रानिया न्यूट्रीशन फाउण्डेशन के सहयोग से शिवपुरी तहसील के चिटोरीखुर्द ग्राम में खुले परिसर में सामाजिक दूरी का ध्यान रखते हुए कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव व इम्यूनिटी बढ़ाने हेतु जागरुकता तथा योग प्रशिक्षकों का सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें कि चिटोरीखुर्द की किशोरी बालिकाओं व सुपोषण सखियों को योग व ध्यान के बारे में शिवपुरी के वरिष्ठ प्रशिक्षक रघुवीर पाराशर द्वारा योग के संबध में जागरुक किया। 
 अधिक जानकारी देते हुए कार्यक्रम संयोजक रवि गोयल ने बताया कि हम ज्यादातर देखते है कि योग को सिर्फ शहरी क्षेत्रों में ही प्रचार प्रसार किया जा रहा हैं जबकि योग कि आवश्यकता ग्रामीण क्षेत्रो के लोगों को भी हैं चूकि उनके पास पर्याप्त आनलाईन साधन नही है। इसीलिए हमंें उनके पास पंहुचना होगा और उन्है सामाजिक दूरी को ध्यान रखते हुए कोविद 19 के लिए सावधानियो के बारे में जागरुक करना होगा। ये लोग हमसे ज्यादा कठिन काम करते है और कोरोना वायरस पेंडैमिक के दौरान भी जब हम घर से काम कर रहे होते है तो ये लोग हमें बुनियादी जरुरतें प्रदान करने के लिए खेतों में काम कर रहे होते है।उनका काम कभी नही रुकता, यह बहुत महत्वपूर्ण हैें कि वे अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें विशेषकर महिलाओं का। इसीलिए चिटोरी खुर्द में आज योग दिवस के उपलक्ष्य में जागरुकता एवं सम्मान कार्यक्रम रखा गया जिससे कि महिलाओं में योग के  बारे में जागरुकता आये। योग प्रशिक्षक कु. संयोगिता मिश्रा ने किशोरियों को योग का महत्व बताते हुये कहा कि लोग योग के बारे में नही जानते उन्है लगता हैं कि या तो यह एक शारीरिक व्यायाम है या धार्मिक लोगों के लिए ध्यान है लेकिन सच्चाई यह हैं कि योग एक जीवन शैली है तभी इसको 185 देशो ने अपनाया है यह चितंा और तनाव दूर करने में बहुत मददगार है। योग के बारे में 10 साल से निशुल्क योग सिखा रहे योग प्रशिक्षक मनीष राठौर ने बताया कि हमारे द्वारा प्रशिक्षित की गई लड़कियों ने देश विदेश में शिवपुरी का नाम रोशन किया है बालिकाओं को योग के क्षेत्र में केरियर बनाना हो तो कभी भी संम्पर्क कर सकती है। कार्यक्रम में योग प्रशिक्षकों को आज के दिन संस्था द्वारा सम्मानित किया गया सवसे पहले वरिष्ठ योग प्रशिक्षक रघुवीर पाराशर को संस्था के संयोजक रवि गोयल ने पौधा एवं सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया इसके बाद मनीष राठौर को लायन्स क्लब साउथ के सचिव विनय शर्मा ने सम्मान पत्र एवं पौधा देकर सम्मानित किया एवं  योग का यह जागरुकता कार्यकम ग्रामीण क्षेत्रोें के लिए बहुत लाभकारी रहा। योग प्रशिक्षक संयोगिता शर्मा को एनएसएस के  सौरभ शर्मा द्वारा सम्मानित किया इसके साथ साथ अन्य दो प्रशिक्षक कु. प्रान्जुल कटारे को प्रमोद गोयल व सुपोषण सखी द्वारा सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम को योग प्रशिक्षक रघुवीर पाराशर ने सभी को संकल्प दिलाया कि हमें अपने मन को हमेशा सतुंलित रखना है, इसमें ही हमारा आत्मविश्वास समाया है। में खुद के प्रति , कुटुबं के प्रति, काम , समाज एवं विश्व के प्रति शान्ति , आनंद और स्वास्थ्य के प्रचार  के लिए कृत संकल्प हूं। इस अवसर पर संस्था की टीम, सुपोषण सखी, प्रमोद गोयल, लायन्स कल्ब के सचिव विनय शर्मा, एनएसएस के सौरभ शर्मा , आंगनवाड़ी कार्यकर्ता उर्मिला मोगिंया के साथ साथ किशोरी बालिकाऐ उपस्थित थी कार्यकम को सफल बनाने में प्रमोद गोयल व सुपोषण सखी ने सक्रिय सहयोग प्रदान किया!

Post a comment

0 Comments