समाज सेवी संस्था ने, मदर्स डे पर बूढ़ी माँ को राशन दिया, बेटे का दुर्घटना में टूटे पैर के इलाज का आश्वाशन दिया..

संस्था द्वारा मदर्स डे के दिन करोंदी में रहने वाली एक बूढ़ी विधवा मां को सूखा राशन प्रदान किया
विधवा मां के लड़के का सड़क दुर्घटना में पैर टूट गया है उसको ईलाज के लिए हर सभंव मदद का आश्वासन दिया


शिवपुरी। स्वयं सेवी संस्था शक्तिशाली महिला संगठन शिवपुरी की आपदा प्रबंधन सूखा राशन राहत टीम  ने रविवार को करोंदी स्थित छोटे से घर में रहने वाली 9 सदस्यीय परिवार को तत्काल एक महिने का राशन प्रदान किया एवं विधवा मां के लड़के का जिसका कि सड़क दुर्घटना मे पैर टूट गया था । उसको ईलाज के लिए संस्था के समन्वयक प्रमोद गोयल द्वारा हरसंभव मदद का आवश्वासन दिया गया। अधिक जानकारी देते हुए संस्था के संयोजक रवि गोयल ने बताया कि आज सुबह एक स्थानीय अखबार में प्रमुखता से इस अम्मा की खबर राशन के लिए तरस्ती एक बूढ़ी मां  प्रकाशित की थी  इसके बाद तुरन्त संस्था की आपदा प्रबंधन सूखा राहत टीम प्रमोद गोयल के नेतृत्व में करोदीं स्थित कस्तूरी देवी (परिवर्तित नाम ) के परिवार को खोजते हुय उनके कालोनी पहंुची थोड़ी सी मशक्कत के बाद संस्था की टीम ने कस्तूरी देवी का घर ढ़ूंढ निकाला इसके बाद संस्था की टीम ने उनसे चर्चा की घर की हालत देखी  तो पता चला कि अम्माजी के पास खाने का एक  दिन का राशन ही बचा है उन्होने नगरपालिका से काफी बार अनुरोध किया लेकिन उनको राशन मुहैया नही हो पाया । इसके साथ अम्मा जी ने बताया कि एक सड़क दुर्घटना में उनके  बेटे का पैर टूट गया है जिसको की डा. रघुवंशी ने निशुल्क जांच की थी इसके बाद जिला चिकित्सालय में प्लास्टर करवा दिया है लेकिन बेटे का दर्द निरन्तर बना हुआ हैं पुनः  जांच कराने पर पता चला कि बेटे के पैर का आॅपरेशन होगा संस्था ने अम्माजी एंव उनके परिवार को धीरज बंधाते हुये आश्वासन दिया कि संस्था आपके बेटे के पैर के आॅपरेशन के लिए पूरा प्रयास करेगी । इसके बाद अम्माजी के परिवार को 10 किलो आटा , चावल, मसाले , तेल, विस्किट्स , नमक , साबुन प्रदान किया जिससे कि उनको एक माह का गुजारा आराम से हो जायगा। राहत राशन पाकर अम्माजी की आखों में आसूं आ गए और उन्हाने संस्था को धन्यवाद एवं आर्शीवाद प्रदान किया इस पर संस्था के आपदा सूखा राशन के मुखिया प्रमोद गोयल ने कहा कि आज मदर्स डे के उपलक्ष्य में जब यह खबर देखी तो हमने तत्काल आपको राहत साम्रगी प्रदान करने का निश्चय किया माता जी आप ये राहत सामग्री रखिये इसके अलाबा आपको कभी कोई भी जरुरत हो तो हमको फोन कर देना हम आ जाएगें और हां अगर आपको धन्यवाद ज्ञापित करना है तो पिं्रट मीडिया का कीजीए जिसमें आपकी खबर पढ़कर हमने आपसे सम्पर्क किया सही धन्यवाद की पात्र अखबार वाली मीडिया है।

Post a comment

0 Comments