ग्वालियर: पर्यावरण विज्ञान अध्ययनशाला ने बनाया यूवी डिसइनफेक्टेंट चेंबर



ग्वालियर। जीवाजी विश्वविद्यालय के पर्यावरण विज्ञानअध्ययनशाला के द्वारा यूवी डिसइनफेक्टेंट चेंबर अथवा  यूवी सैनिटाइजेशन कक्ष को बनाया गया है जिसमें विशेष वेवलेंथ वाला यूवी प्रकाश स्रोत का उपयोग किया गया है जो कुछ सेकेंड के अंदर किसी भी सूक्ष्म जीव के डीएनए को खत्म कर सकता है

इसका प्रयोग घरों में सब्जियां मास्क पेपर एवं पैक्ड फूड व अन्य प्रकार के किसी भी सामान से संक्रमण खत्म करने के लिए प्रयोग किया जा सकता है यह चेंबर कार्यालयों में फाइलों से संक्रमण दूर करने बैंक में रुपयों के लेनदेन से होने वाले संक्रमण को दूर करने एवं आसानी से हैंडल किए जाने वाला है



चेंबर को बनाने में लगभग हजार रुपए का खर्च आया है इसे बनाने के लिए कार्डबोर्ड का प्रयोग किया गया है एक विशेष लंबाई चौड़ाई वाले वाले कार्डबोर्ड ड्राइंग शीट एवं अल्मुनियम फॉयल का प्रयोग किया गया है चेंबर की लागत कम होने के बावजूद उपयोगिता काफी अधिक है


उक्त चेंबर छात्र विश्वनाथ ने घर पर रहकर विभागाध्यक्ष डॉ हरेंद्र शर्मा के मार्गदर्शन में बनाया है
विभागाध्यक्ष डॉ हरेंद्र शर्मा ने बताया कि इस तरह के डिसइनफेक्टेंट चेंबर को बनाने का उद्देश्य वर्तमान में कोरोनावायरस एवं सूक्ष्मजीवों के संक्रमण  को खत्म करना है यह संक्रमण को फैलने से रोकने का सबसे सरल एवं सहज तरीका है l

Post a comment

0 Comments