आदिवासी बाहुल्य ग्राम वांसखेड़ी में 30 जरुरतमंद परिवारों को सूखा राशन वितरित किया - samay khabar

ताजा खबरों के लिए FB पेज को Like करे

आदिवासी बाहुल्य ग्राम वांसखेड़ी में 30 जरुरतमंद परिवारों को सूखा राशन वितरित किया

Share This
साबुन से अच्छी तरीके से बार बार हाथ धोए एवं मास्क का प्रयोग अवश्यक करें । 
सोसल डिस्टेंसिग का पूरी तरीके से पालन करें और अनाश्वयक कोई बाहर न निकले:- रवि गोयल

शिवपुरी। स्वयं सेवी संस्था शक्तिशाली महिला संगठन शिवपुरी आदिवासी बाहुल्य बुजुर्ग परिवार जिनको की सूखा राशन की बहुत ज्यादा जरुरत थी इनमे से दो बुजुर्ग माताऐ अधंत्व की शिकार हैं और 3 परिवार में दिव्यागता होने की बजह से राशन की बहुत समस्या थी इन्होने स्वंय सेवी संस्था शक्तिशाली महिला संगठन से आंगनवाड़ी सहायिका जसंबत कौर के सहयोग से इन 30 आदिवासी बुजुर्ग परिवारों को 15 दिन का राशन जिसमें कि 5 किलो आटा, 2 किलो चावल, साबुन 2, विस्किट्स पैकेट 2 , तेल 1 लीटर, मसाले में धनिया मिर्ची, हल्दी 100 ग्राम एवं नमक 1 किलो , एवं  तुअर दाल 1 किलो प्रदान की यह राशन पाकर बुजुर्ग माताऐ एवं पिता तुल्य दंपति खुशी से फूले नही समाए उन्होने कहा कि आपने हमारी सुध ली और राशन प्रदान किया । 
संस्था के आपदा राहत के संयोजक  रवि गोयल ने जानकारी देते हुये बताया कि संस्था को इस आदिवासी बाहुल्य गांव में आकर बहुत खुशी हो रही है ।
कल ही गंाव की सहाहियका को अखवारों के माध्यम से पता चला कि संस्था राशन वितरित कर रही हैं तो सहायिका ने संस्था से सम्पर्क किया एवं शाम को संस्था के सदस्य अपने स्वयसेवकों के साथ गांव में आ गए इन्होने पहले पूरे गांव का भ्रमण किया करीब एक घण्टे तक भ्रमण करने के बाद आंगनवाड़ी सााहियका जसवंत कौर के माध्यम से 30 परिवारों को चिन्हित किया जिनको की राशन की वास्तविकता में जरुरत थी इनमें से जो दिव्यांग बुजुर्ग महिला थी उन्होने कहा कि मोड़ा अच्छो लगो तुम राशन लेकर आए अब एक माह 15 दिन तक अच्छे से खाने की व्यस्था हो जायेगी पहले भी कोई संस्था वाले आये थे पूड़ी सब्जी बांट गऐ थे जबकि हमें सूखा राशन की जरुरत थी बहुत खुखी हो रही है ।
राशन पाकर। रवि गोयल ने कहा संस्था ने सभी महिलाओं को सोसल डिस्टेसिंग का पूरी तरीके से पालन करना हैं और जब भी घर से बाहर निकलना हो तो मास्क लगाकर ही जाना है इसके साथ अनावश्यक रुप से कोई  भी घर से न निकले  इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा तभी हम कोरोना सकंमण महामारी को हरा पायेगें और फिर से सामान्य जीवन जी सकेगें। इस कार्य में  संस्था के स्वयंसेवक की टीम ने पूरा सहयोग किया।। संस्था ने सूखा राहत राशन लेने वाले हर बुजुर्ग महिला को आवश्वत किया कि आपकी पहचान व फोटो कहीं भी सार्वजनिक नही किये जायेगें।

No comments:

Post a comment

Pages