Latest

latest

सहरिया विकास परिषद की माँग पर मुख्यमंत्री ने दी सौगातें*श्री चौहान ने कहा कि मैं आज अपना बादा पूरा करने दिल से आया हूँ।*

Saturday, 9 December 2017

/ by Durgesh Gupta
*सहरिया विकास परिषद के माँग पत्र पर मुख्यमंत्री ने की घोषणाएं*

*-बोले मुख्यमंत्री विगत माह अपनी माँगों को लेकर भोपाल तक पैदल आये थे ग्वालियर चंबल संभाग के सहरिया,मैंने यहाँ आने का किया था बादा*

शिवपुरी


आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सेसई में आयोजित सहरिया महासम्मेलन में मंच से बोलते हुए आदिवासियों के उत्थान के लिए तमाम घोषणाएं की और खुद को व अपनी पार्टी के हर व्याक्ति को विकास के लिए संकल्पित बताया।
*सीएम शिवराज सिंह चौहान ने खुले मंच से कहा कि विगत माह ग्वालियर चंबल संभाग के तमाम आदिवासी लोगों ने सहरिया विकास परिषद के बैनर तले अपनी मांगों को लेकर श्योपुर से भोपाल तक पैदल आये थे,उस समय इन लोगों से मेरी मुलाकात हुई थी और मैंने इन्हें आश्वाशन दिया था कि में जल्द ही ग्वालियर चंबल संभाग में आऊँगा और आपकी माँगों को पूरा भी करूंगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मैं आज अपना बादा पूरा करने दिल से आया हूँ।*इससे पहले सभा को सहरिया विकास परिषद के अध्यक्ष मुकेश मल्होत्रा ने सम्बोधित किया और मुख्यमंत्री के समक्ष अपनी 25  बिंदुओ की मांगे रखी थी।
मुकेश मल्होत्रा द्बारा जो मांगें रखी गई थीं उन्हें मुख्यमंत्री ने पूरा करने की बात कही और एक के बाद एक कई घोषणाएं मंच से की।
*सहरिया विकास परिषद की माँग पर मुख्यमंत्री ने दी सौगातें*
1👉अनुसूचित जनजाति के बच्चों की उच्च शिक्षा हेतु ग्वालियर एवं इंदौर में 17 करोड़ 20 लाख की लागत से विशाल एवं भव्य अध्ययन केन्द्र बनेगा।

2👉शिवपुरी एवं कराहल (श्योपुर) में सहरिया जनजाति के बच्चों के लिए कम्प्यूटर प्रशिक्षण केन्द्र शुरू होगा।

3👉सहरिया जनजाति के कक्षा 12वीं उत्तीर्ण युवाओं को पुलिस भर्ती में लिखित परीक्षा में छूट मिलेगी।

4👉आदिवासी की जमीन को गैर आदिवासी नहीं खरीद सकेगा।

5👉सहरिया जनजाति के ऐसे भाई-बहन जो कच्चे मकानों में रह रहे हे, उन्हें मार्च 2018 तक 22 हजार पक्के मकान बनाए जाने हेतु सहायता दी जाएगी।

6👉मनरेगा के तहत दी जाएगी मजदूरी।

7👉286 सहरिया भाषा के भाषाई शिक्षकों की पुनः नियुक्ति की जाएगी।

8👉कक्षा 12वीं उत्तीर्ण सहरिया जनजाति की छात्राओं को एएनएम का निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदाय किया जाएगा।

9👉आदिवासी टोले-मजरे एवं गांव में 2018 के अंत के बिजली की लाईन बिछाकर निःशुल्क विद्युत कनेक्शन दिए जाएगें।

10👉10 हजार सहरिया बच्चों को आईटीआई का प्रशिक्षण प्रदाय कर उन्हें कौशल प्रदाय किया जाएगा। जिससे सरकारी नौकरी के अलावा निजी क्षेत्र में भी रोजगार प्राप्त कर सके।

11👉सहरिया बस्ती (सेहरानों मोहल्ला) में हेण्डपम्प एवं ट्यूबवेल लगाए जाएगें।

12👉वनाधिकार के पट्टेधारी आदिवासियों को खाद्य एवं बीज की भी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी और भावांतर भुगतान योजना का भी लाभ दिया जाएगा।

13👉सहरिया बाहुल्य क्षेत्रों में गरीब सहरिया परिवारों को फलों, सब्जियों एवं दूध के लिए 1 हजार रूपए की सहायता राशि महिलाओं के खाते में जमा कराई जाएगी। 

No comments

Post a comment

Don't Miss
© all rights reserved
made with by templateszoo