शिवपुरी: ठेकेदार की मनमानी, ऐसे खोद दी सड़क की पैदल तक निकलना हुआ दूभर



एक साल में भी नहीं बन पाई सर्किट हाउस रोड

पीडब्ल्यूडी की लापरवाही से चार कॉलोनी के हजारों लोग परेशान

शिवपुरी

हाईकोर्ट के निर्देश के बाद भी शहर में सड़कों के निर्माण में तेजी नहीं आ पाई है। शहर की सर्किट हाउस रोड को एक साल पहले बन जाना चाहिए था लेकिन यह रोड अभी तक नहीं बन पाई है। इस समय बायपास से सर्किट हाउस तक पीडब्ल्यूडी द्वारा 1 करोड़ 53 लाख की लागत से जो नई डामरीकृत सड़क का काम हो रहा है वह बहुत ही धीमी गति से किया जा रहा है। यहां काम कर रहे ठेकेदार की मनमानी आम लोगों पर भारी पड़ रही है। घटिया काम के कारण इस मार्ग पर डेढ़ साल पहले जो सीसी सड़क धसकी थी उसे तोड़कर नई डामरीकृत सड़क बनाने का काम इस समय चल रहा है। लेकिन ठेकेदार ने इस सीसी सड़क को ऐसे तोड़ा है कि यहां पर आमजन पैदल तक नहीं निकल पा रहे हैं। यहां पर एक सप्ताह पहले इस सीसी सड़क को तोड़ा गया उसके बाद इसका मटेरियल यहां से हटना था लेकिन ठेकेदार ने काम ही बंद कर दिया। अब सड़क पर ही सीमेंट के पत्थर डले हुए और हजारों लोग परेशान हो रहे हैं। परेशान लोगों ने बताया कि पिछले सात दिन से यहां पर काम बंद है और कई बार पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से गुहार लगा चुके है कि यहां पर काम की गति बढ़ाई जाए लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। लोगों का कहना है कि रामबाग कॉलोनी, सर्किट हाउस रोड, शक्तिपुरम कॉलोनी, बायपास कॉलोनी, न्यू पुलिस लाइन कॉलोनी के लोग रास्ता बंद होने से परेशान हैं।

*पोल शिफ्टिंग का काम भी अधर में*

इस रोड पर विद्युत के पोल शिफ्टिंग का काम भी अभी तक पूरा नहीं हो पाया है। पहले सर्किट हाउस के पास एक खेत मालिक द्वारा पोल शिफ्टिंग में बाधा उत्पन्न की जा रही थी इसके बाद स्थानीय नागरिकों ने जब इसकी शिकायत खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया से की तो उन्होंने एसडीएम सहित अन्य अधिकारियों को मौके पर भेज कर कुछ पोल शिफ्टिंग करवाई थी। अब इस रोड पर आगे भी कुछ खेत मालिक पोल शिफ्टिंग नहीं होने दे रहे। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने बताया कि यहां पर कुछ खेत की पटिया पोल शिफ्टिंग में बाधा बन रही है। इस बाधा को हटवाने में मदद के लिए सूचना एसडीएम सहित अन्य अधिकारियों को दी जा चुकी है लेकिन कोई भी अफसर मदद नहीं कर रहा है। इस कारण से अभी तक पोल शिफ्टिंग नहीं हो पाई है और काम अधर में लटका है।

*पीडब्ल्यूडी के अफसर नहीं कर रहे मॉनिटरिंग*

इस रोड को पीडब्ल्यूडी द्वारा नए सिरे से स्टीमेट बनाकर 1 करोड़ 53 लाख की लागत से बनाया जा रहा है लेकिन इस काम पर कोई भी वरिष्ठ अधिकारी मॉनिटरिंग नहीं कर रहा है। दो महीने से यहां पर मनमाने ढंग से काम हो रहा है। पूर्व में यहां पर एक करोड़ रुपए की जो सीसी सड़क धंसकी थी उसमें भी यही कारण रहा था कि कोई भी अधिकारी यहां चल रहे निर्माण को देखने नहीं आता था। बाद में जब घटिया काम के कारण सड़क धंसक तो शासन को नुकसान उठाना पड़ा। लोगों की मांग है कि यहां पर वरिष्ठ अधिकारी मॉनिटरिंग करें और काम की गति को तेज करें जिससे लोगों की परेशानी दूर हो सके।

*क्या कहते हैं अधिकारी*

सीसी सड़क को तोड़ने के बाद ठेकेदार की मशीन खराब हो गई है इस कारण सीमेंट मटेरियल नहीं हट पाया। हमने ठेकेदार से कहा है कि जल्द यह मटेरियल हटवाए। इसके अलावा पोल शिफ्टिंग में कुछ खेत की पटियाओं का अतिक्रमण बाधा बन रहा है इसके लिए हमने एसडीएम को मदद के लिए पत्र लिखा है।

राजेश जैन
सब इंजीनियर, पीडब्ल्यूडी शिवपुरी

Post a comment

0 Comments