मिलावटी दूध बेचकर मासूमों की जान से खिलवाड़



*मिलावटी दूध बेचकर मासूमों की जान से खिलवाड़*


*शिवपुरी*-शिवपुरी जिला दूध उत्पादन में प्रदेश के अग्रणीय जिलों में शुमार रखता है यहां के दूध की खपत शिवपुरी जिले के अलावा झांसी, दतिया और यहां तक की ग्वालियर, गुना में भी भेजा जाता है परन्तु शिवपुरी जिले में शुद्ध दूध के नाम पर जहर बेचा जा रहा है। यह इसकी शुद्धता लेक्टोमीटर से भी पकड़ में नहीं आती है, क्योंकि लेेक्टोमीटर केवल फैट दिखाता है और नकली दूध में फैट की मात्रा रिफाइण्ड तेल डालकर बढ़ा दी जाती है। नव-भारत समाचार पत्र ने पड़ताल में पाया कि यह रिफाईण्ड तेल अधिकांशत: प्रयोग किया जाता है साथ ही इसमें छोटे टैंकरों से बाहर से दूध शहर में मचाया जाता है जो कि चिलर प्लांट में मिक्सर करके शहर से अन्यत्र स्थानों पर सप्लाई के रूप में भेजा जाता है। इसी बीच छोटे टैंकरों के साथ-साथ जब बड़े टैंकरों जो लगभग 28 हजार लीटर के रहते है उसमें नकली दूध की मिलावट कर दी जाती है। यह चिलर प्लांट शहर के मुख्य मार्गोँ पर स्थित है परन्तु खाद्य विभाग की इन पर कभी नजर नहीं पड़ती।

*ऐसे बनाया जाता है नकली दूध*

एक क्विंटल सपरेटा दूध बनाने के लिए पांच किलोग्राम रिफाईण्ड तेल की आवश्यकता पड़ती है, 3.5 डिफरेंस नामक कैमीकल मिलाया जाता है तथा इसमें सी.एल.आर. पावडर के दो कट्टे मिला दिए जाते है तथा इनको अच्छी तरह फेंट कर मिक्स कर लिया जाता है।

*फूड इंस्पेक्टर ने नहीं उठाया किया फोन बंद*

इस मामले को लेकर जब नव-भारत समाचार पत्र के प्रतिनिधि ने मिलावटी दूध को लेकर प्रतिक्रिया जानने और इस मामले में विभाग की चुप्पी व क्या कार्यवाही की जाएगी, विभिन्न बातों को लेकर फूड इंस्पेक्टर योगेश डोंगर से चर्चा करने के लिए दूरभाष किया तो उन्होनें फोन नहीं उठाया और मोबाईल बंद कर दिया गया। कई बार-बार फोन लगाने के बाद भी फूड इंस्पेक्टर ने इस मामले में अपना पक्ष नहीं रखा। इससे प्रतीत होता है कि कहीं ना कहीं विभाग के कुछ कर्ताधर्ताओं की मिलीभगत भी इन मिलावटियों से हो सकती है।

*इनका कहना है-*

यदि इस प्रकार का कोई मिलावटी दूध का मामला है तो इस तरह के मामलों को हम गंभीरता से लेकर कठोर कार्यवाही कराऐंगें और फूड इंस्पेक्टर को निर्देशित कर इस तरह के मामलों की सघन जांच करा देते है, आप हमें गोपनीय तरीके से सूचना दें हम त्वरित कार्यवाही करेंगें।

*डॉ.एम.एस.सागर, सीएमएचओ, शिवपुरी*

*बहुत जल्द मिलावटखोरों का पर्दाफाश करेगा नवभारत*

Post a comment

0 Comments