Latest

latest

सेसई में पंचकल्याणक महोत्सव की तैयारियां अंतिम चरण में, ,भगवान् बनने के अनूठे कार्यक्रम के साथ होगी मरीजों की सेवा

Friday, 17 November 2017

/ by Durgesh Gupta


सेसई में पंचकल्याणक महोत्सव की तैयारियां अंतिम चरण में, ,भगवान् बनने के अनूठे कार्यक्रम के साथ होगी मरीजों की सेवा 

टीवी चैनल पर होगा सीधा प्रसारण

चिकित्सक देंगें अपनी सेवाऐं।

26 नवम्बर रविवार को जन्म कल्याणक के दिन शोभायात्रा निकाली जाएगी। 

 आगामी 23 नवम्बर से जहां 30 नवम्बर तक पंचकल्याणक महोत्सव होगा। जिसमें 23 नवम्बर को उज्जैन की पार्टी द्वारा जम्मू स्वामी का वैराग्य नाटक का मंचन किया जायेगा।


शिवपुरी। जैन समाज के पंचकल्याणक महोत्सव के दौरान एक ओर जहाँ पाषाण से भगवान बनने के अनूठे कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा वहीं समाज सेवा के कार्य भी किये जायेंगे। इसी तारतम्य में भगवान के जन्मकल्याणक महोत्सव के अवसर पर आगामी 26 नवंबर को पंचकल्याणक स्थल ए.बी. रोड़ ग्राम सेसई तहसील कोलारस में एक विशाल स्वास्थय परिक्षण शिविर का आयोजन किया जाएगा। इस शिविर में शिवपुरी के ख्यातिनाम चिकित्सिक अपनी सेवायें देंगें, साथ ही शिविर में आने वाले मरीजों को यथायोग्य दवाइयाँ भी वितरित की जावेंगी। जिससे आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोग लाभान्वित होंगें।




पंचकल्याण महोत्सव के अध्यक्ष जीतेन्द्र जैन ने जानकारी देते हुये बताया कि महोत्सव में समाज बंधुओं के आगमन के मद्देनजर 85 बाई 225 फुट का विशाल डोम बनाया जा रहा है, जिसमें हजारों की संख्या में श्रद्धालु एकसाथ कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं। जैन परंपरानुसार शौध की भोजन शाला तथा सामूहिक भोजन शाला का अस्थायी निर्माण कराया जा रहा है। इसके अलावा व्रती श्रावकों के लिए भी अलग से भोजन की व्यवस्था की गई है।




इसके लिए 95 गुणा 155 वर्गफ ीट में भोजनशाला बनाई जा रही है। वहीं महामहोत्सव में शामिल प्रमुख पात्रों व इंद्र-इंद्राणियों के लिए अलग से 35 गुणा 135 वर्गफिट में भोजनशाला बनाई जा रही है। यहां आने वाले समाज बंधुओं के ठहरने हेतु 50 आधुनिक कमरों का भी निर्माण किया जा रहा है।

टीवी चैनल पर होगा सीधा प्रसारण

आयोजन समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि आगामी 23 नवम्बर से जहां 30 नवम्बर तक पंचकल्याणक महोत्सव होगा। जिसमें 23 नवम्बर को उज्जैन की पार्टी द्वारा जम्मू स्वामी का वैराग्य नाटक का मंचन किया जायेगा। वहीं 27 नवम्बर को सूरत एवं 28 नवम्बर को जबलपुर की पार्टी द्वारा रात्रि में भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों का मंचन किया जायेगा। 30 नवम्बर को नवीन प्रतिमाऐं वेदियों में विराजमान की जायेंगी तथा शांतिनाथ भगवान की प्रतिमा का बज्रलेप के बाद प्रथम महामष्तकाभिषेक होगा। पंचकल्याणक के कार्यक्रमों का सीधा प्रसारण टीवी जिनवाणी चैनल पर किया जाएगा।




पंचकल्याणक आयोजन समिति के सदस्यों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार पंचकल्याणक महोत्सव के दौरान आगामी 26 नवंबर रविवार को दोपहर एक बजे से 4 बजे तक एक विशाल स्वास्थय परिक्षण शिविर का आयोजन किया जाएगा। इस शिविर में शिवपुरी के ख्यातिनाम चिकित्सिक अपनी सेवायें देंगें, साथ ही शिविर में आने वाले मरीजों को यथायोग्य दवाइयाँ भी वितरित की जावेंगी। पंचकल्याणक के आयोजन के दौरान विश्वशांति की भावना से विश्वशांति महायज्ञ भी किया जाता है, यही कारण है कि ‘सर्वे भवन्तु सुखिन: सर्वे सन्तु निरामय:‘ की भावना से पंचकल्याणक आयोजन समिति एवं श्री शांतिनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र सेसईजी (नौगजा) ट्रस्ट कमेटी के तत्वाधान में यह आयोजन विशाल स्तर पर पूज्य मुनि श्री अजितसागर जी महाराज, ऐलक श्री दया सागर जी महाराज एवं ऐलक श्री विवेकानंद सागर जी महाराज सानिध्य में रखा जा रहा है।


यह चिकित्सक देंगें अपनी सेवाऐं।

मेडिसिन बिषेषज्ञ डॉ. डी. के. बंसल, डॉ. रत्नेश जैन, डॉ. विमल जैन, डॉ. दिलीप जैन, डॉ. मुकेश जैन, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. उमा जैन, डॉ. इंदु जैन, डॉ. अनीता जैन, शल्य रोग चिकित्सक डॉ. पंकज गुप्ता, नेत्र रोग विशेषज्ञ, डॉ. एच.पी. जैन, दंतरोग विशेषज्ञ डॉ. प्रतीक जैन शिशु रोग बिशेषज्ञ, डॉ. अनूप गर्ग, अस्थि रोग विशेषज्ञ, डॉ. एस के बंसल, क्षय रोग एवं स्वांस संबंधी रोग विशेषज्ञ डॉ. आर. के. जैन एवं नाड़ी बिशेषज्ञ वैद्य अशोक उपाध्याय अपनी नि:शुल्क सेवाऐं प्रदान करेंगें।
महोत्सव के कार्यकारी अध्यक्ष राजकुमार जैन जड़ीबूटी एवं चौधरी अजीत जैन ने बताया कि प्रतिष्ठाचार्य बाल ब्र. अजय भैया आदित्य इन्दौर के निर्देशन में विधिविधान से कार्यक्रम होंगे। जिसमें 23 नवंबर को विशाल घटयात्रा जुलूस गजरथ (ऐरावत हाथी) बग्घी घोड़े बाजे-गाजे के साथ निकाली जाएगी। 24 नवम्बर को गर्भ कल्याण की पूर्व क्रियाऐं व 25 नवम्बर को गर्भ कल्याणक मनाया जायेगा। 

26 नवम्बर रविवार को जन्म कल्याणक के दिन शोभायात्रा निकाली जाएगी। इसके बाद नवनिर्मित पांडुक शिला पर 1008 कलशों से भगवान का अभिषेक होगा। इसके लिये गौषाला में पांडुकषिला का निर्माण किया गया है। 27 नवम्बर को भगवान के तप कल्याणक के दिन आदिकुमार की बारात कोलारस नगर में निकाली जायेगी। 28 नवम्बर को ज्ञानकल्याणक के दिन भगवान का समोषरण लगेगा तथा 29 नवम्बर को मोक्ष कल्याणक मनाया जायेगा। सप्ताह भर के इन कार्यक्रम में अनेक राज्यों से जैन समाज के श्रद्धालु पहुंचेंगे। 

पंजीयन कार्य प्रभारी महावीर इंटरनेशनल संस्था शिवपुरी को बनाया गया है। पंचकल्याणक आयोजन समिति एवं श्री शांतिनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र सेसईजी (नौगजा) ट्रस्ट कमेटी ने अधिक से अधिक संख्या में मरीजों से शिविर का लाभ लेने की अपील की है।

26 नवम्बर रविवार को जन्म कल्याणक के दिन शोभायात्रा निकाली जाएगी। इसके बाद नवनिर्मित पांडुक शिला पर 1008 कलशों से भगवान का अभिषेक होगा। इसके लिये गौषाला में पांडुकषिला का निर्माण किया गया है। 27 नवम्बर को भगवान के तप कल्याणक के दिन आदिकुमार की बारात कोलारस नगर में निकाली जायेगी। 28 नवम्बर को ज्ञानकल्याणक के दिन भगवान का समोषरण लगेगा तथा 29 नवम्बर को मोक्ष कल्याणक मनाया जायेगा। सप्ताह भर के इन कार्यक्रम में अनेक राज्यों से जैन समाज के श्रद्धालु पहुंचेंगे।

No comments

Post a comment

Don't Miss
© all rights reserved
made with by templateszoo