Latest

latest

1 करोड़ रूपए के बांटे बाल हृदय रोगियों एवं बाल श्रवणबाधितों को स्वीकृति पत्र, जनसेवा का अनूठा आयाम आरबीएसके - रूस्तम सिंह

Tuesday, 7 November 2017

/ by Durgesh Gupta

शिवपुरी -लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री एवं जिले के प्रभारी श्री रूस्तम सिंह ने गत दिनों मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना व मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना के तहत 27 हृदय रोगियों एवं 12 श्रवणबाधितों को लगभग 01 करोड़ के स्वीकृति पत्रों का वितरण कर ग्वालियर एवं भोपाल के लिए बस को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया।
मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम अर्थात आरबीएसके जनसेवा का अनूठा आयाम है। उन्होंने कहा कि मप्र सरकार कई जनहितैषी कार्यों को संचालित कर जनसेवा के कार्य में निरंतर जुटी हुई है। मानव कल्याण के लिए सरकार द्वारा वर्ष 2013 से मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना तथा उसके बाद मुख्यमंत्री बालश्रवण योजना लागू की गई, जिसमें 6.50 लाख तक की स्वीकृति के अधिकार मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी स्तर पर दिए गए हैं। सरकार के प्रयासों से राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम अंतर्गत मप्र में 38 हजार बालरोगियों की सर्जरियां कराईं गईं हैं। शिवपुरी जिले में भी राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम अंतर्गत उल्लेखनीय कार्य हो रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने जनमानस से प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रहीं जनहितैषी नीतियों से लाभ लेने की अपील की।
कार्यक्रम में अध्यक्षता कलेक्टर श्री तरुण राठी ने की और विशिष्ट अतिथि के रूप में पोहरी श्री विधायक प्रहलाद भारती, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री सुशील रघुवंशी एवं पुलिस अधीक्षक श्री सुनील पांडे उपस्थित थे। कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमएस सागर, सिविल सर्जन डॉ. जेएस त्रिवेदिया, डीआईओ डॉ. संजय ऋषिश्वर, डॉ. अल्का त्रिवेदी, जिला मलेरिया अधिकारी लालजू शाक्य, डिप्टी एमईआईओ जियोरकर, आरएमओ डॉ. सुरेन्द्र गुर्जर, हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेटर डॉ. साकेत सक्सेना, आरबीएस के कॉडिनेटर अखिलेश शर्मा सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी भी मौजूद थे।
कार्यक्रम के दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने पूर्व से उपचार करवाकर आने वाले हृदय रोगी एवं बालश्रवण रोगी पीयूष यादव से मुलाकात की और उनके हालचाल जाने। स्वास्थ्य मंत्री ने इस बात पर संतोष व्यक्त किया कि कॉक्लीयर इंप्लांट की सर्जरी के बाद अब गूंगे-बहरे बोलने और सुनने लग गए हैं।

No comments

Post a comment

Don't Miss
© all rights reserved
made with by templateszoo