शिवपुरी में बजट ठिकाने लगाने का साधन बने रोजगार मेले

युवाओं की बजाय अफसरों को मिल रहा है रोजगार 


शिवपुरी जिले में उद्योग विभाग द्वारा लगाए जाने वाले रोजगार मेले युवाओं की बजाए अफसरों को रोजगार दिला रहे हैं। स्थिति यह है कि इन रोजगार मेलों के लिए जो लाखों रुपए का बजट दिया जा रहा है। उस बजट में अधिकारी सेंधमारी कर अपनी जेबें भर रहे हैं। मंगलवार को कन्या महाविद्यालय में जो रोजगार मेले का आयोजन किया गया। उसमें लोकल कंपनी के लोग बिठा दिए गए। इस मेले में युवा भी कम संख्या में पहुंचे। साथ ही जिन नामी कंपनियों के आने की बात कही गई थी वह सब झूठ निकली। पिछले दो साल में इन मेलों के नाम पर लाखों रुपए की बर्बादी जिले में की गई है। 

Post a comment

0 Comments