Latest

latest

आईपीएल का सट्टा खिलाते तीन युवक दबोचे

Friday, 12 May 2017

/ by Durgesh Gupta
लुकवासा में आईपीएल का सट्टा खिलाते तीन युवक दबोचे

कोलारस पुलिस ने एसपी के निर्देशन में दिया कार्रवाई को अंजाम

राहुल शर्मा-कोलारस। कोलारस पुलिस ने शुक्रवार की सुबह लुकवासा में दविश देकर आईपीएल
सट्टा खिलाते तीन युवकों को गिरफ्तार कर उनके पास से 12 हजार रूपए नकद,
सट्टे के हिसाब की डायरी व मोबाइल जब्त कर प्रकरण दर्ज किया है। यह कार्रवाई पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डेय के निर्देश व एसडीओपी सुजीत
भदौरिया के मार्गदर्शन में टीआई अवनीत शर्मा द्वारा अंजाम दी गई। पुलिस द्वारा की गई इस औचक कार्रवाई से आईपीएल सटटा सहित जुआरियों में खलबली का माहौल निर्मित हो गया है। नगर निरीक्षक अवनीत शर्मा ने मुखबिर से मिली सूचना पर आज लुकवासा में शिशुपाल रघुवंशी के निवास पर रेड डाली तो यहां आईपीएल का सट्टा खिलाते हुए शिशुपाल पुत्र रामसिंह रघुवंशी, सतीश पुत्र राधेश्याम शर्मा, सुनील पुत्र गोपाल रघुवंशी निवासी सभी लुकवासा को गिरफ्तार कर उनके पास से 12 हजार रूपए नकद, सट्टो के हिसाब की डायरी व मोबाइल फोन बरामद किया गया। पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में आरोपी शिशुपाल स्वीकार किया कि आईपीएल का
सट्टा वह अपने सहयोगियों के साथ चलाता था और सट्टे के पैसों का उतारा अनिल राठौर निवासी प्रताप छात्रावास के पास गुना को करता था जो आईपीएल सट्टे का खाईबाज सेठ है। पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ धारा 4 क
सार्वजनिक ध्रूत क्रीड़ा अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है। आईपीएल सटोरियों को दबोचने में उप निरीक्षक पीपी परमार, सुरेश शर्मा, नरेश दुबे,
दिनेश, महाराज सिंह, मुकेश, सुरेन्द्र, महेन्द्र की भूमिका सराहनीय रही।
-
पूर्व विधायक के चेले-चपाटे मुंह की खाकर वापस लौटे
-
यहां बताना गौरतलब होगा कि जब कोलारस पुलिस अनुृविभागीय अधिकारी सुजीत
सिंह भदौरिया एवं टीआई अवनीत शर्मा पकडे गए सटोरियों से सख्ती से पूछताछ की जा रही थी तभी पुलिस थाना परिसर पर भाजपा के पूर्व विधायक का कोलारस विधानसभा से
सूपडा साफ कराने वाले लुकवासा निवासी एक-दो चेले चपाटे सटोरियों को बचाने की कवायद में लगे हुए थे परंतु अपराधियों के प्रति अपना तेज-तर्रार रवैया
अख्तियार करने वाले एसडीओपी सुजीत सिंह भदौरिया के सामने पूर्व विधायक के चेले-चपाटों की एक नहीं चली और वह अपनी बेइज्जती कराते हुए मुंह की खा चलते बने, संबधित माजरा पूरे कोलारस नगर में चर्चा का विषय बना रहा। इस स्थिति में पूर्व विधायक को आगामी विधानसभा में चुनाव लडने की स्थिति में देखा
जा रहा है तो विधायक जी को ऐसे चेले-चपाटों का त्याग वैसे कर देना चाहिए जैसे चाय में से मख्खी निकाल फेंकना, नहीं तो आगामी विधानसभा चुनावों के
परिणामों में हार का नतीचा पच्चीस की जगह पचास हजार में तब्दील होगा।
-

No comments

Post a comment

Don't Miss
© all rights reserved
made with by templateszoo