बच्चे ने किया ऐसा कमाल, ग्रीन टी से खोजा केंसर से लड़ने वाला केमिकल

ग्रीन टी इंसान की सेहत के लिए कितनी लाभकारी है यह हम सभी को भलीभांति पता है और वैसे भी यह हम भारतीयों के लिए तो यह हमेशा से ही चर्चा का विषय रही है कि ग्रीन टी की सबसे ज्यादा पैदावार एशिया के देशों में ही होती है इसलिए ये हमारे लिए अच्छी है!



लेकिन ऐसा नहीं है क्योंकि ग्रीन टी दुनिया के हर उस इंसान की पहली पसंद है जो सेहतमंद बना रहना चाहता है। इसके अलावा भी अगर इस बात पर गौर किया जाए कि यह सिर्फ आपकी त्वचा और metabolism(चयापचय क्रिया) यानी वो क्रिया जिसमे हम शामिल करते है जिन्दा रहने के लिए आवश्यक शरीर में होने वाली वो तमाम रासायनिक अभिक्रियाएँ जो हम जीवो में कोशिकाओं को उर्जा प्रदान करने के लिए होती है वो मेटाबोलिज्म में आती है। लेकिन हाल ही में जो खोज सामने आई है वो यह है कि यह ग्रीन टी आपके शरीर की रसायनिक क्रियाओं के लिए ही नहीं अपितु कैंसर के इलाज के लिए भी लाभकारी है।
यह कमाल किया है एक 12 साल के बच्चे स्टेफेन लिट् ने, जिसने ग्रीन टी में कैंसर प्रतिरोधक कैमिकल को खोजा है।
स्कूल के प्रोजेक्ट के लिए, जॉर्जिया विज्ञान और इंजीनियरिंग फेयर में भाग लेने वाले इस बच्चे ने कैंसर की लड़ाई से लड़ने के लिए हरी चाय में एक एंटीऑक्सिडेंट की खोज की है।
आलम यह है कि स्टेफिन के इस आईडिया में सभी स्कूल, कॉलेज और अमरीकी खोजकर्ता अपनी रूचि दिखा रहे हैं। अमरीका के जॉर्जिया प्रान्त के एटलांटा शहर में रहने वाले स्टेफेन ने अपने परिवार के दो सदस्यों को कैंसर के कारण खो दिया था तभी ये बच्चा कैंसर की लड़ाई के लिए अपनी खोज कर रहा था।

Post a comment

0 Comments