मुर्गी की हत्या, पुलिस ने कराया पोस्टमार्टम



कोरबा। एक महिला बिलखते हुए पुलिस चौकी पहुंची और अपनी मुर्गी की हत्या का आरोप पड़ोसी पर लगाया। पुलिस ने महिला को समझाने का प्रयास किया गया, लेकिन वह मुर्गी व चूजों के हत्यारे पर कार्रवाई की मांग पर अड़ी रही। अंतत: पुलिस को मुर्गी का शव पशु चिकित्सालय भेजकर पोस्टमार्टम कराना पड़ा।हत्या के गंभीर वारदातों को सुलझाने वाली पुलिस इन दिनों मुर्गी व उसके चूजों की मौत का मामला सुलझाने में लगी है। मामला सीएसईबी पुलिस चौकी का है। शुक्रवार की सुबह करीब 11 बजे चौकी प्रभारी ग्रहण सिंह राठौर अपने कक्ष में बैठे थे। इस दौरान मानसनगर के खटखटिया पारा निवासी रागिनी यादव (30) अपने पति लक्ष्मण यादव के साथ वहां पहुंची।उसके हाथ में एक मरी हुई मुर्गी व 4 चूजे थे। पुूट-पुूटकर रो रही रागिनी को देख थानेदार कुछ समझ नहीं पाए। पूछने पर उसने बताया कि पड़ोस में रहने वाले राजा यादव पिता गुलाब राम (35) ने उसकी मुर्गी व चूजों की हत्या की है। रागिनी ने बताया कि गुरुवार को उसकी मुर्गे व चूजे राजा की बाड़ी में चले गए थे। शुक्रवार की सुबह एक मुर्गी, मुर्गा व 8 चूजों में 4 मृत मिले।रागिनी का आरोप है कि पड़ोसी ने जहर देकर मुर्गियों को मारा है। थानेदार ने पहले मामले को मामूली बताते हुए टालने की कोशिश की, परंतु रागिनी समझने को तैयार नहीं थी। वह मुर्गी को मारने वालों के खिलापु कानूनी कार्रवाई की जिद पर अड़ी थी। भारतीय दंड संहिता में पालतू पशु, पक्षी को नुकसान पहुंचाने पर कार्रवाई का प्रावधान है, लिहाजा पुलिस को मृत मुर्गी व चूजों का पोस्टमार्टम कराना पड़ा। पुलिसकर्मी रागिनी के साथ पशु अस्पताल पहुंचे और चिकित्सक ने पोस्टमार्टम किया।

Post a comment

0 Comments