Latest

latest

निरोगी शरीर के लिए योग और व्यायाम बहुत जरूरी: डीआईजी सचिन अतुलकर , पुलिस एवं तथागत फाउण्डेशन ने लगाया पुलिस परीक्षण शिविर , इनका हुआ सम्मान..

Sunday, 17 January 2021

/ by Durgesh Gupta

 



-पुलिस एवं तथागत फाउण्डेशन ने लगाया पुलिस परीक्षण शिविर 


-200 पुलिस कर्मियों ने कराया अपना परीक्षण 


शिवपुरी । देश दुनिया में भी नागरिक धार्मिक ग्रंथों को मनाते हैं और पूजते इतना ही नहीं जब वह परेशान होते हैं तो वह भी भगवान को याद करते हैं। तो फिर वह हमसे भिन्न कहां हैं। लेकिन हम लोग उनको अपने से भिन्न मानते हैं यह गलत हैं। 

उक्त उदगार डीआईजी सचिन अतुल करने ने तथागत फाउडेशन के पुलिस स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि भीतर से जाग जाना ध्यान है। सदा निर्विचार की दशा में रहना ही ध्यान है, एक मात्र ध्यान ही ऐसा तत्व है कि उसे साधने से सभी स्वत: ही सधने लगते हैं, और हम स्वस्थ्य रहते हैं। यदि हम स्वस्थ्य नहीं होंगे तो हम जीवन में कुछ भी नहीं कर पायेंगे। 

उन्होंने कहा कि 24 घंटे में एक घंटा हमें अपने शरीर स्वस्थ्य रखने के लिए देना ही होगा। इसके साथ ही हमें अपने खानपान पर भी ध्यान देना होगा। हमको अपने भोजन में केवल स्वास्थ्यकर चीजें ही लेना चाहिए। उन्होंने तथागत फाउण्डेशन के द्वारा आयोजित इस स्वास्थ्य कैंप की भूरी-भूरी प्रशंसा करते हुए कहा कि समाज को पुलिस के साथ जुडऩा चाहिए। इससे बहुत बेहतर और सकारात्मक परिणाम सामने आते हैं। 

इसके पूर्व कार्र्यक्रम के मुख्य अतिथि डीआईजी ग्वालियर रेंज सचिन अतुलकर, कार्यक्रम के अध्यक्ष कलेक्टर अक्षया कुमार सिंह, कार्यक्रम के विशिष्ठ अतिथि पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल एवं डॉ. एएल शर्मा तथा डॉ. पीके खरे का माल्यार्पण द्वारा स्वागत किया गया और दीप प्रज्वलन के बाद विधिवत कार्र्यक्रम प्रारंभ हुआ। 

इसके पूर्व अपने स्वागत भाषण में तथागत फाउडेशन के अध्यक्ष आलोक एम इंदौरिया ने तथागत फाउडेशन के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि पुलिस कर्मियों के लिए यह हमारा चौथा बड़ा कैंप हैं जिसमें एक ही छत के नीचे मेडीशन, सर्जरी, आई, ईएनटी, गायनिक, ऑर्थोपेडिक, मानसिक रोग, दंत चिकित्सा सुविधा पुलिस कर्मियों को उपलब्ध करार्ई गई। इसके अतिरिक्त बीपी, ब्लडशुगर टेस्ट और ईसीजी की सुविधा के साथ दवाईयां भी नि:शुल्क प्रदान की गई हैं। 

कार्यक्रम की विशिष्ठ अतिथि के रूप में बोलते हुए पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने कहा कि तथागत फाउडेशन ने पुलिस कर्मियों के यह स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया हैं यह बहुत सराहनीय पहल हैं,क्योंकि पुलिस कर्मी 24 घंटे आप सबकी सेवा में कार्यरत रहते हैं मुझे बड़ी खुशी हैं शिवपुरी की सामाजिक संस्थायें इस क्षेत्र में बहुत जागरूक हैं। चाहे वह कोरोना काल का कठिन समय हो या वर्तमान समय यह संस्थायें बढ़ चढ़कर पुलिस और प्रशासन के साथ न केवल सहयोग करती हैं। बल्कि खुले हाथों से मदद भी करती हैं। उन्होंने कहा कि इस शिविर में 45 वर्ष से अधिक उम्र के 200 पुलिस कर्मियों ने अपना परीक्षण कराया। अपने अध्यक्षीय उदबोधन में जिला कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने कहा कि पहला सुख निरोगी काया हैं और जब काया निरोगी होगी तो हमारे विचार भी अच्छे होंगे और हम काम भी अच्छे करेंगे। 

उन्होंने तथागत फाउडेशन की इस सार्थक पहल का स्वागत करते हुए इसके और विस्तृत करने की आवश्यकता पर बल दिया। कार्यक्रम कुशल संचालन वरिष्ठ समाजसेवी समीर गांधी ने  किया और आभार प्रदर्शन एसडीओपी कोलारस अमरनाथ वर्मा ने किया।

 कार्यक्रम के अंत में समस्त चिकित्सकों तथा पैरामेडीकल स्टाफ को पुलिस विभाग के द्वारा स्मृति चिन्ह प्रदान किए गए। वहीं तथागत फाउडेशन की ओर से आलोक एम इंदौरिया तथा पुलिस अधीक्षक ने डीआईजी सचिन अतुलकर एवं जिला कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह को प्रतिक चिन्ह भेंट किया। 


यह थी पुलिस कर्मियों की स्थिति



इस शिविर में कुल 177 पुलिस कर्मियों ने चैकअप कराया इनमें 46 डाबिटिक और 65 हाईपरटेंशन के मरीज पाए गए। 55 मरीजों की ईसीजी की गई जिनमें कुछ में खराबी पाई गई। मगर दो मरीज मौके पर ही बहुत खतरनाक स्थिति में थे। जिन्हें तत्काल जिला चिकित्सालय में भर्र्ती कराया गया। नेत्र परीक्षण में 77 मरीजों का परीक्षण किया गया। जिनमें 34 को मौके पर ही जांच कर नम्बर दे दिए गए। इसके अतिरिक्त 5 मरीजों में फंडस पाया गया वहीं 3 मरीजों की आंख के ऑपरेशन कराने की बात कहीं। 

इसी तरह ऑर्थोपेडिक डिपार्टमेंट में 20 मरीज स्पेडोलाईटिस और अर्थराईटिस के पाए गए। ईएनटी में 78 मरीजों को देखा गया। जिनमें सात मरीजों को कम सुनाई देता था। वहीं 11 मरीज सीएसओएम के पाए गए। बांकी को हल्की एलर्जी थी। गायनिक में 4 मरीज देखे गए। इसी तरह दंत चिकित्सा विभाग ने 48 मरीजों का परीक्षण किया जिनमें 20 मरीजों के दांत खराब पाए गए। जिन्हें आरसीडी के द्वारा ठीक किया जाएगा। 


मौके पर ही की ऑपरेशन की घोषणा 



शिवपुरी जिले के प्रख्यात नेत्र चिकित्सक डॉ. गिरीश चतुर्वेदी ने डीआईजी सचिन अतुलकर के सामने तथागत फाउडेशन के अध्यक्ष आलोक एम इंदौरिया के निवेदन पर मंच से घोषणा की कि इस कैंप में जो भी पुलिसकर्मी आंख के ऑपरेशन के योग्य पाया जाएगा उसका मेरे द्वारा नि:शुल्क ऑपरेशन किया जाएगा। उनकी इस घोषणा का करतल ध्वनि से पुलिस कर्मियों ने स्वागत किया।  

इसी तरह परख लैब के द्वारा पुलिस कर्मियों की सभी जांचों में 40 प्रतिशत डिस्काउण्ड की घोषणा की गई। वहीं लायेन्स क्लब साउथ की ओर से इन जांचों में 20 प्रतिशत अपनी ओर से देने की घोषण महिपाल आरोरा के द्वारा की गई। इस तरह अब पुलिसकर्मी को परख लैब पर किसी भी जांच के लिए अगले तीन दिन तक केबल अपने पास से 40 प्रतिशत ही देना होगा। 





इनका हुआ सम्मान


कोरोना काल में पुलिस प्रशासन के साथ सहयोग करने और कंधे से कंधा मिलाकर काम करने के लिए बदरवास के रमेश अग्रवाल को पीपीई किट, राजेन्द्र गुप्ता गर्म पानी की वोटल प्रदान करने, राजेश गुप्ता को पूरे कोरोना काल में पुलिस कर्मियों को पाईन्टों पर ही जल सेवा हेतु, आरक्षक गीता शर्मा को कोरोना काल से अभी तक ट्रेम्प्रेचर नापने तथा एफएसएल विशेषज्ञ डॉ. एचएच बरदिया को सेनेटाईजर निर्माण हेतु शॉल श्रीफल के द्वारा डीआईजी के द्वारा सम्मानित किया गया।

No comments

Post a comment

Don't Miss
© all rights reserved
made with by templateszoo