Latest

latest

कोरोना योद्धा पुलिस अफसर की बेटी फाल्गुनी पाल बनी सब इंस्पेक्टर, ग्रह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दी फोन पर बधाई

Sunday, 10 May 2020

/ by Durgesh Gupta


ग्रह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने वीडियो कॉन्फ्रेंस पर बात कर दी शुभकामनाएं।

उज्जैन मध्यप्रदेश
23 साल की फाल्गुनी को मध्य प्रदेश सरकार ने सब इंस्पेक्टर बना दिया है. फाल्गुनी के पिता यशवंत पाल की कोरोना से जान गई थी.
कोरोना योद्धा पिता की बेटी भी अब पुलिस विभाग को अपनी सेवाएं देगी. 23 साल की फाल्गुनी पाल (Falguni Pal) को मध्य प्रदेश सरकार ने सब इंस्पेक्टर बना दिया है. फाल्गुनी के पिता यशवंत पाल (Yashwant Pal) की कोरोना से जान चली गई थी. उन्हें कोरोना ड्यूटी के दौरान हुआ था. फाल्गुनी की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी, जिसमें वह पिता की तस्वीर से लिपटकर रो रही थीं. वह इस पीपीई किट में थीं.
उज्जैन के नीलगंगा पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक यशवंत पाल (59) कोरोना वायरस प्रभावित इलाकों में ड्यूटी के दौरान कोविड-19 से संक्रमित हो गए थे. और बाद में इन्दौर में निजी अस्पताल में इलाज के दौरान पिछले माह उनका निधन हो गया था. जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि प्रदेश के गृह तथा लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने उज्जैन की फाल्गुनी पाल से वीडियो कॉलिंग द्वारा बात कर सब इंस्पेक्टर बनने पर शुभकामनाएं दी. 
मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशानुसार गृह विभाग द्वारा उन्हें सब इंस्पेक्टर के पद पर अनुकंपा नियुक्ति दी गई है. अगले सप्ताह वह अपने कर्तव्य पर उपस्थित होकर अपने परिवार की जिम्मेदारी के साथ समाज, प्रदेश वासियों की सेवा और विभागीय दायित्वों के साथ जिम्मेदारियों का निर्वाहन प्रारंभ कर सकती हैं. मिश्रा ने बताया कि कोविड-19 के संकट काल में उज्जैन के नीलगंगा थाने में पदस्थ रहे थाना प्रभारी यशवंत पाल अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हुए शहीद हो गए. मुख्यमंत्री चौहान के निर्देशानुसार उनकी पुत्री फाल्गुनी पाल को अनुकंपा नियुक्ति दी गई है.

No comments

Post a comment

Don't Miss
© all rights reserved
made with by templateszoo