आदिवासी बाहुल्य कठमई में कुपोषित बच्चों वाले 15 जरुरतमंद परिवारों को सूखा राशन वितरित किया


सोसल डिस्टेंिसंग एवं साफ सफाई का विशेष ध्यान रखे एवं बच्चों को समय से खिलाये इसका संकल्प कराया

शिवपुरी। स्वयं सेवी संस्था शक्तिशाली महिला संगठन शिवपुरी की आपदा प्रबंधन सूखा राशन राहत टीम ने आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र कठमई  में जाकर से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती शशिकातां भार्गव ने टीम को अवगत कराया कि यहा 15 जरुरतमंद आदिवासी परिवारों को सूखा राशन की बहुत आवश्यकता हैं क्योकि इन आदिवासी परिवारो के यहा बच्चें कम वजन व अति कम वजन के हैं और सभी आदिवासी परिवार कच्ची झोपड़ियो में निवास करते है। संस्था की टीम ने कल जब कठमई के इन 15 परिवारों से की स्थिति देखी तो हुबहु वही पायी जो कि जो कार्यकर्ता द्वारा अवगत कराया गया था संस्था के संयोजक रवि गोयल ने तत्काल निर्णय लिया कि इन 15 परिवारों को जिनके कि बच्चें कुपोषण से ग्रसित हैं इन   आदिवासी परिवारों को 15 सूखे राशन की किट तत्काल भेजने का निश्चय किया। इसके बाद संस्था की टीम ने सर्वप्रथम कठमई में पहंुचकर सामाजिक दूरी बनी रहे इसके लिए  अलग अलग गोलों में कुपोषित बच्चों की माताओं को खड़ा किया  फिर साबुन से हाथ धोने का तरीका बताया एंव कहा कि सभी अपने एवं अपने परिवार के सभी लोगों को साबुन से अच्छी तरीके से हाथ धुलाया करें कम से कम 20 सैकण्ड तक एवं बच्चों को राज नहलाया करें।  इसके साथ कही भी जाये तो सामाजिक दूरी का विशेष ख्याल हमको रखना हैं जिससे कि हम इस वैश्विक कोरोना महामारी सकंमण से बचे रहे और दुसरे लोगों को भी ये संक्रमण न हो।  स्वंय सेवी संस्था शक्तिशाली महिला संगठन ने अपनी टीम एवं  आंगनवाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती शशिकातां भार्गव  के सहयोग से इन 15 आदिवासी परिवारों को 15 दिन का राशन जिसमें कि 5 किलो आटा, 2 किलो चावल, साबुन 2, विस्किट्स पैकेट 2 , तेल 1 लीटर, मसाले में धनिया मिर्ची, हल्दी 100 ग्राम एवं नमक 1 किलो , एवं  तुअर दाल 1 किलो प्रदान की ।  इसके साथ  संस्था ने सूखा राहत राशन लेने वाले हर आदिवासी परिवार को आवश्वत किया कि आपकी पहचान व फोटो कहीं भी सार्वजनिक नही किये जायेगें।

Post a comment

0 Comments