शिवपुरी: लाॅक डाउन की स्थिति का जायजा लेने पोहरी और कोलारस पहुंचे कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक




शिवपुरी| कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए लॉक डाउन घोषित किया गया है। इस दौरान जिले में क्या स्थिति है इसका जायजा लेने कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी एवं पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल मंगलवार को पोहरी और कोलारस पहुंचे। उन्होंने यहां कम्युनिटी किचन, शेल्टर होम एवं विभिन्न नाकों की व्यवस्था देखी और व्यापारियों, धर्मगुरुओं के साथ बैठक कर लॉकडाउन का पालन करने के लिए कहा। इस दौरान अपर कलेक्टर आर एस बालोदिया एवं एसडीएम कोलारस आशीष तिवारी और पोहरी एसडीएम पल्लवी वैद्य भी मौजूद थे।


व्यापारियों को दिए निर्देश, कालाबाजारी नहीं होना चाहिए

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने पोहरी और कोलारस में व्यापारियों, किराना संघ के साथ बैठक रखी। उन्होंने स्पष्ट कहा है कि उपभोक्ताओं से वस्तुओं के अधिक दाम नहीं वसूलना है। व्यापारी किसी प्रकार से कालाबाजारी ना करें, अन्यथा उनके विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तुओं के परिवहन पर किसी प्रकार की रोक नहीं है। यदि किसी को इस प्रकार की कोई समस्या है तो वह बताएं उसका निराकरण किया जाएगा।


धर्मगुरुओं और गणमान्य नागरिकों, समाजसेवकों से लॉक डाउन का पालन कराने में सहयोग की अपेक्षा

पोहरी में धर्मगुरुओं एवं गणमान्य नागरिकों के साथ भी चर्चा की गई और सभी से लॉकडाउन का पालन कराने में सहयोग की अपेक्षा की गई है। धार्मिक स्थलों में पूजा -अर्चना में कोई रोक नहीं है। मंदिर के पुजारी पूजा-अर्चना कर सकते हैं। परंतु लोगों की भीड़ एकत्रित नहीं करना है। सोशल डिस्टेंस हर जगह जरूरी है।


शेल्टर होम, कम्युनिटी किचन की व्यवस्था देखी कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने पोहरी में आईटीआई संस्थान और कोलारस में आरटीओ चेक पोस्ट के पास स्थित शेल्टर होम की व्यवस्था देखी। उन्होंने पोहरी में एक दिव्यांग दंपत्ति को राशन भी उपलब्ध कराया। पोहरी एवं कोलारस एसडीएम को भी निर्देश दिए हैं कि शेल्टर होम में सभी व्यवस्थाएँ करें। कम्युनिटी किचन का संचालन अच्छी तरह करें। बेसहारा गरीब लोगों को खाना उपलब्ध कराएं और जिन लोगों को राशन की आवश्यकता है उन्हें राशन उपलब्ध कराया जाए।
मीडिया प्रतिनिधि लोगों को जागरूक करें
 
कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा कर कहा की लोगों को जागरूक करने में मीडिया की अहम भूमिका है इसलिए सही जानकारी लोगों तक पहुंचाएं और लोगों को जागरूक करने में मदद करें।

 पांच समाजसेवियों ने जरूरतमंदों की मदद के लिए दी आर्थिक सहायता 
कोलारस में पांच समाजसेवियों ने जरूरतमंदों की मदद के लिए सवा दो लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी है। कोलारस एसडीएम ने बताया कि नागरिक जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आकर स्वेच्छा से मदद कर रहे हैं। रेडक्रॉस में और मुख्यमंत्री राहत कोष में पैसा जमा करा रहे हैं। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने कोलारस के नागरिकों कि इस मदद के लिए सराहना की और सभी का धन्यवाद दिया है।

अन्तर्राजीय बॉर्डर कोटा नाका का निरीक्षण

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने अन्तर्राजीय बॉर्डर कोटा नाका का निरीक्षण किया और पुलिस और चिकित्सकों की टीम को सतर्कता से ड्यूटी करने के निर्देश दिए। इस दौरान एसडीएम आशीष तिवारी, एसडीओपी, थाना प्रभारी और डॉक्टर भी वहां मौजूद थे। उन्होंने कहा है कि बाहर से आने वाले लोगों का चेकअप किया जाए और उन्हें सावधानी बरतने की सलाह दी जाए।

Post a comment

0 Comments