GST का कहर: 1 जुलाई से ये चीजे होंगी महंगी और सस्ती..


जीएसटी लागू  से सबसे ज्यादा छोटे व्यापारियों को फिक्र हो रही है. उन्हें लग रहा है कि इससे उनके कारोबार को नुकसान होने वाला है. जान लें कि सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि 20 लाख सलाना टर्नओवर वाले व्यापारियों को जीएसटी देने की कोई जरूरत ही नहीं है, तो अगर आपका सालाना कारोबारी टर्नओवर 20 लाख है तो आपको चिंता की जरूरत बिलकुल नहीं है


. इससे ऊपर के टर्नओवर वालों के लिए सरकार की तरफ से एक कंपोजीशन स्कीम लाई गई है. छोटे काराबोरी इस कंपोजिशन स्कीम को जानने के बाद टेंशन फ्री हो सकते हैं कि जीएसटी आने के बाद उनके कारोबार पर असर नहीं पड़ेगा.

अब आएगा 200 का नोट ? RBI में शुरू हुई 200 रुपये के नोटों की छपाई !


कंपोजिशन स्कीम
75 लाख रुपये तक के सालाना टर्नओवर वाले कारोबारियों के लिए सरकार कंपोजीशन स्कीम लेकर आयी है.
  • कंपोजीशन स्कीम में तीन स्लैब हैं, पहला है बेचने वालों के लिए, इसमें सालाना टर्नओवर का 1 फीसदी टैक्स देना है.
  • दूसरा है बनाने वालों का, इसमें सालाना टर्नओवर का 2 फीसदी टैक्स देना है.
  • तीसरा है रेस्त्रां चलाने वालों के लिए, इसमें सालाना टर्नओवर का 5 फीसदी टैक्स देना है.
काफी खींचतान के बाद आखिरकार कांग्रेस और सरकार के बीच जीएसटी पर सहमति बन गई है और बुधवार को इसे राज्यसभा में पास कर दिया गया। आइए जानते हैं GST से बाजार में क्या सस्ता होगा क्या महंगा।

जीएसटी आने से सिर्फ इंडस्ट्री और कंज्यूमर को फायदा नहीं होगा बल्कि मालढुलाई भी 20 फीसदी सस्ती हो जाएगी। जाहिर है इसका फायदा आम उपभोक्ता से लेकर लॉजिस्टिक्स इंडस्ट्री तक को होगा।

Post a comment

0 Comments