आदिवासियों के आवासों को बनाने के लिए ठेकेदार ने हड़पे लाखो रुपए, आदिवासियों के मसीहा बने देवी सिंह जादोन

आदिवासियों के आवासों को बनाने के लिए ठेकेदार ने हड़पे लाखो रुपए, आदिवासियों के मसीहा बने देवी सिंह जादोन


हितेश जैन पोहरी। शिबपुरी जिले की पोहरी तहसील में ग्राम पंचायत उपसिल के ग्राम कोलापुर में आदिवासियों को प्रधानमंत्री द्वारा आबास बनाने के लिए 150000 रु सरकार द्वारा दिये जा रहे है इस योजना के अंतर्गत कोलापुर के ग्रामीण बसियो ने भानगढ़ के ठेकेदार को 5 आवासों को बनाने के लिए 3 लाख रु एडवांस के रूल में ग्रामीण वासियो ने अपनी पहली किस्त निकालकर ठेकेदार को दी। ठेकेदार ने गरीव आदिवासियों के आवासों को लेकर 4 महीनो तक काम चालू नही करवाया। 4 महीने से भानगढ़ का   ठेकेदार मनीराम जाटव आदिवासियों को अपने चक्कर लगवाता रहा। इस ठेकेदार से तंग आकर कोलापुर के आदिवासियों ने पोहरी थाने में 8 जून को आवेदन दिया इस आवेदन में कोलापुर के ग्रामीण वासी जिसमे कन्ना पुत्र जगनू आदिवासी, बलराम पुत्र पीतम आदिवासी, महेश पुत्र ख्याली आदिवासी, परमाल पुत्र नब्बू आदिवासी, रघुबीर पुत्र सरबन आदिवासी इन सभी लोगो ने पोहरी थाने में आवेदन दिया। लेकिन पोहरी थाना के प्रभारी राजेन्द्र ने ग्रामीणों की समस्यायों  को गंभीरता से नही लिया। इस समस्या से आदिवासियों ने सहरिया क्रांति से जुड़े देवीसिंह जादोन को अपनी समस्या को बताया। देवीसिंह जादोन ने तत्काल सहरिया क्रांति के अध्य्क्ष संजय वेचैन को बताया इस समस्या को लेकर सहरिया क्रांति के अध्य्क्ष ने पोहरी थाना आकर थाना प्रभारी राजेन्द्र शर्मा से बात की ओर ठेकेदार पर तुरंत कारबाही करने को कहा। जिस पर थाना प्रभारी ने अपने आरक्षक पहुँचाकर ठेकेदार को थाने पर बुलवाया ओर ठेकेदार से तुरंत आवासों को बनबाने को कहा। ठेकेदार ने सभी आदिवासियों के आवासों का काम कल दिनांक 13 जून से सुरु करने को कहा। सहरिया क्रांति के अध्य्क्ष संजय बेचैन ने आदिवासियों से कहा कि यदि ठेकेदार नेे आवास बनने में यदि ज्यादा बक्त लगा तो अब में ठेकेदार पर कार्यवाही करबाउंगा ।

Post a comment

0 Comments