,,आओ सवारे,अपनी शिवपुरी ,,-शिवपुरी को खूबसूरत बनाने युवाओ की अनूठी, सराहनीय पहल, -- कलेक्टर


,,आओ सवारे,अपनी शिवपुरी

शिवपुरी को खूबसूरत बनाने युवाओ की अनूठी पहल की सराहना करते , कलेक्टर ,एस पी 


दुर्गेश गुप्ता -शिवपुरी - अपने शहर शिवपुरी को खूबसूरत बनाने के लिए ! समाजसेवी युवाओ की सकारात्मक सोच , अनूठी पहल , अपना शहर ,समाज और अपने देश के लिए ! हमेशा कुछ नया   कर  गुजरने की चाहत रखने वाले  जोशीले अंदाज वाले वरिष्ठ पत्रकार श्री ब्रजेश सिंह  तोमर के दिमाग में काफी समय से अपने शहर  शिवपुरी के भविष्य को लेकर चिंतन चल रहा था !  अचानक ही उनके दिमाग में आया क्यों नही , हम लोग एक दूसरे की कमियों को  न निकालते हुए ! सच्चे मन से कुछ करने की ठाने और हम सब मिलकर जबाबदारी पूरी करे ! तो हम सब मिलकर अपने शहर को सुन्दर शहर बना सकते है !  
आओ सवारें अपनी शिवपुरी के तहत जागरूक युवाओं की पहल शुरू, संकल्प दिवस के रूप में
मनाएंगे सप्ताह। श्री तोमर के  साथ कन्धा  से कन्धा मिलाकर चलने वाले उनके साथी सतेंद्र सिंह सेंगर ,  बॉबी राजा ,नीरज सिंह तोमर , राजीव शर्मा , अन्नू सिंह तोमर ,प्रदीप सिंह तोमर ,आदि ने मिलकर की शुरुआत !,  
आओ सवारें अपनी शिवपुरी के तहत सकारात्मक रूप से शहर के युवाओं द्वार शुरू की गयी पहल अनुकरणीय है और यक़ीनन इसके दूरगामी परिणाम सामने आएंगे।यह बात आज जिला कलेक्टर ओ पी श्रीवास्तव ने युवाओं की इस 

पहल का शुभारंभ करते हुए अपने निवास पर कही।
कलेक्टर श्री श्रीवास्तव का युवाओं से कहना था की शिवपुरी मैं विकास की कई योजनाओं का एक साथ क्रियान्वयन हो रहा है कि जिसके कारण निश्चित तौर पर आम जन को कुछ परेशानियां हुई हैं। आने वाले दिनों में यक़ीनन शिवपुरी खूबसूरती ,रोजगार और पर्यटन के क्षेत्र में संभावनाओं वाला अनुपम जिला होगा। मुझे ख़ुशी है कि नववर्ष के प्रारंभ से युवाओं की एक टीम ने यह सकारात्मक पहल शुरू की है। इस जिले को संवारने के लिए मैं संकल्प लेता हूँ की अतिरिक्त प्रयास और अतिरिक्त श्रम करने से भी पीछे नहीं हटूंगा। कलेक्टर श्रीवास्तव ने युवाओं की इस टीम को उनके द्वारा हाल ही मैं बनवाया गया शिवपुरी के पर्यटन स्थलों को दर्शाता हुआ कैलेंडर भी भेंट किया एवं विकास की तमाम योजनाओं के बारे में भी अवगत कराया।"आओ सवारें अपनी शिवपुरी" के तहत युवाओं ने भी उन्हें फूलों का गुलदस्ता व संकल्प दिवस का सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया।
इसके बाद युवाओं की यह टीम पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डे के निवास पर पहुंची और उन्हें फूलों का गुलदस्ता व सम्मान पत्र भेंट किया। इस अवसर पर अपनी खुशी जाहिर करते हुए पुलिस अधीक्षक श्री ने भी संकल्प लिया की वे सुरक्षा के मुद्दे पर कभी भी अपने अतिरिक्त प्रयास करने से पीछे नहीं हटेंगे उनका कहना था कि युवाओं की यह सकारात्मक पहल वास्तव में अनुकरणीय है और मैं स्वयं शिवपुरी का सवारने और निखारने के प्रयासों में व्यक्तिगत रूप से भी भागीदारी करूंगा। इस टीम ने एस पी बंगले पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों, दरबान सहित अन्य कर्मचारियों का भी फूल व सम्मान पत्र देकर सम्मान किया इसके अलावा युवाओं की इस टीम ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमाल मौर्य, एस डी एम रूपेश उपाध्याय, डिप्टी कलेक्टर आर के प्रजापति ,तहसीलदार नवनीत शर्मा, खादय अधिकारी श्री प्रजापति, दस्यु उन्मूलन मैं लगी ऐ डी टीम सहित अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों का भी फूल व सम्मान पत्र भेंट कर सम्मान किया। संस्था सदश्यों का कहना था कि संकल्प सप्ताह के रूप में यह मुहीम निरंतर जारी रहेगी जिसके तहत प्रशासन के अधिकारी कर्मचारी, चिकित्सा तंत्र, नगरीय निकाय तंत्र,शिक्षा महकमा,समाजसेवी,पत्रकार गढ़, जनप्रतिनिधियों व उन सभी लोगों का सम्मान किया जायेगा जो शहर के विकास मैं कहीं भी अपनी कोई भी भूमिका रखते हों या रख सकते हो। संस्था द्वारा 2 जनवरी को चिकित्सालय, जिला कोल्लेक्टररेट परिसर व पुलिस महकमे के सम्मान किये जायेंगे।

क्या है सम्मान पत्र
'आओ सवारें अपनी शिवपुरी" के तहत 1 जनवरी शिवपुरी के जन्मदिवस के दिन से शुरू की गयी युवाओं की इस सकारात्मक पहल मैं एक सम्मान पत्र दिया जाता है जिसमें लिखा है कि-" 97 साल की इस शिवपुरी को पहले से और अधिक ख़ूबसूरत बनाने के लिए आपकी भूमिका अति महत्वपुर्ण है। हम प्रत्यक्ष मैं आपको सम्मानित करते हुए आपसे यह आशा करते हैं कि आप जहाँ भी, जैसे भी, जिस पदपर भी आसन है अपने कर्त्तव्य के निर्वाहन में पहले से अधिक ऊर्जा लाकर इस नगरी के पुनरुथान मैं अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे। आपके प्रयासों से यह वर्ष शिवपुरी के इतिहास में स्वर्णाक्षरों मैं दर्ज होगा इसी आसा के साथ साधुवाद, आभार।

सफाई कर्मियों का भी किया सम्मान ।
"आओ सवारें अपनी शिवपुरी" की टीम का उद्देश्य हर उस तबके का सम्मान करना है जिस की शहर के विकास मैं कहीं भी कैसी भी भूमिका है। इसी के तहत युवाओं की इस टीम ने नगरपालिका के उस सफाई दस्ते का भी"गुलाब का फूल और सम्मान पत्र देकर सम्मान किया"।
सफाई दस्त भी खुद का सम्मान पाकर प्रसन्न हुआ और युवाओं की मुहिम की मुक्त कंठ से प्रसंशा की।

Post a comment

0 Comments